हमीरपुर- सरकारी कोटे का राशन बाजार में बेंचने जा रहे कोटेदार को ग्रामीणों ने रंगे हाथों पकड़वाया गरीबों का हक लूटने वाला कोटेदार ग्रामीणों को देख लेने की धमकी देकर मौके से हुआ फरार

हमीरपुर- सरकारी कोटे का राशन बाजार में बेंचने जा रहे कोटेदार को ग्रामीणों ने रंगे हाथों पकड़वाया

गरीबों का हक लूटने वाला कोटेदार ग्रामीणों को देख लेने की धमकी देकर मौके से हुआ फरार

पूरा मामला हमीरपुर जिले की राठ तहसील के लिधौरा गांव का है। जहां पर गांव का कोटेदार सरकारी कोटे का राशन ट्रैक्टर ट्राली में भरकर बेंचने जा रहा था। कोटेदार के इन कारनामों से परिचित घात लगाए बैठे ग्रामीणों ने बाइक से उसका पीछा किया। और तत्काल उपजिलाधिकारी को मामले की पूरी सूचना दी। उपजिलाधिकारी ने सप्लाई इंस्पेक्टर को तुरंत मौके पर जांच के लिए भेजा जहाँ पहुंचकर सप्लाई इंस्पेक्टर ने मौके पर माल बरामद करके आवश्यक कार्यवाही की बात कही। इधर कोटेदार ग्रामवासियों को देख लेने की धमकी देकर मौके से फरार हो गया।

ग्रामीणों ने बताया कि जिस दुकान पर कोटेदार माल बेंचेने गया था उस दुकानदार ने कोटे का राशन होने की वजह से माल खरीदने से साफ मना कर दिया, तभी कोटेदार वहां चावल और गेहूं से भरी बोरियां फेंककर फरार हो गया। ग्रामीणों ने यह भी आरोप लगाया कि कई राशन कार्ड धारकों को पूरे एक साल से राशन ही नहीं दिया गया है।

अब ऐसे में जहां एक ओर कोरोना काल मे केंद्र व राज्य सरकारें गरीबों को मुफ्त राशन देने की बात कर रही है वहीं जमीनी स्तर पर मुफ्त तो दूर बल्कि सब्सिडी वाला राशन ही जनता को नहीं मिल पा रहा है। गांव की गरीब, कम पढ़ी लिखी जनता के हक को हमेशा से लूटा जाता रहा है और सरकार के लाख प्रयासों के बाद भी यह सिलसिला आज भी बदस्तूर जारी है। फिलहाल इस मामले में अब यह देखना होगा कि कार्यवाही के नाम पर प्रशाशन द्वारा क्या कार्यवाही की जाती है

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar