चित्रकूट में ग्रीन बेल्ट पर तेज़ाब का काम कर रहे भूमाफिया* चित्रकूट। सरकारी मशीनरी की बढ़ती लापरवाही के चलते भूमाफि

*ग्रीन बेल्ट पर तेज़ाब का काम कर रहे भूमाफिया*

चित्रकूट। सरकारी मशीनरी की बढ़ती लापरवाही के चलते भूमाफिया ज़िले में अपना पँजा जमाने मे कामयाब साबित हो रहे हैं। भूमाफियाओं ने महायोजना के साथ ग्रीन बेल्ट क्षेत्र में तेज़ाब की तरह हरियाली तबाह कर मिट्टी में मिलाने का काम कर रहे हैं। आपको बता दे कि महायोजना के अंतर्गत व्यक्तिगत व व्यावसायिक निर्माण के अलग अलग स्थान विकास प्राधिकरण द्वारा चिन्हित किये गए हैं बावजूद इसके मौजा डिलौरा सहित दर्जनों ग्रीन बेल्ट में खुलेआम व्यापक पैमाने में सरकारी राजस्व को चूना लगा प्लॉटिंग का धंधा किया जा रहा है और राजस्व विभाग व विकास प्राधिकरण चुप्पी साधे हुए खुली आँखों से सब होते देख रहा है। हालांकि मिल रही जानकारी के मुताबिक ग्रीन बेल्ट में चिन्हित होने की वजह से डिलौरा की बहुतायत खरीदे गए प्लाट का अब तक दाखिल खारिज नहीं हो पाया है। विकास प्राधिकरण ने अगर जल्द क्रेन लगा इसका समतलीकरण नहीं करवाया तो गैर जनपद से आई यह कंपनी यहां की जनता की रकम को फंसा चंपत हो जाएगी और छीबो पॉवर प्लांट मामले कि तरह लोग फसी रकम को पाने के लिए अफ़सरो की चौखट पर फरियाद लिए भटकते दिखाई देंगे।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar