*पंच दिवसीय ग्रामोदय महोत्सव 8 से 12 फरवरी तक होगा*

*पंच दिवसीय ग्रामोदय महोत्सव 8 से 12 फरवरी तक होगा*

*प्रो आई पी त्रिपाठी महोत्सव के संयोजक नामित किये गए*

*पूजन – हवन के साथ 8 फरवरी को होगा प्रातः 10 बजे शुभारंभ*

*विभिन्न प्रतियोगिताओं के साथ रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे*

चित्रकूट,29 जनवरी 2021। महात्मा गांधी चित्रकूट ग्रामोदय विश्वविद्यालय में पंच दिवसीय ग्रामोदय महोत्सव और स्थापना दिवस समारोह आगामी 8 फरवरी से 12 फरवरी 2021 तक सम्पन्न होगा।इस आशय का निर्णय कुलपति प्रो नरेश चंद्र गौतम ने लेते हुए विज्ञान एवं पर्यावरण संकाय के अधिष्ठाता प्रो आई पी त्रिपाठी को स्थापना दिवस समारोह -2021 नामित किया है।
इस निर्णय के साथ ही समारोह संयोजक प्रो आई पी त्रिपाठी की अध्यक्षता में विश्वविद्यालय के संकायप्रमुखों और विश्वविद्यालय के अधिकारियों की बैठक विज्ञान संकाय में सम्पन्न हुई। बैठक में सभी के मध्य विचार- विमर्श के बाद सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि 8 फरवरी से 12 फरवरी के मध्य विभिन्न प्रतियोगिताओं और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।
प्रो त्रिपाठी ने बताया कि 8 फरवरी को प्रातः 10 बजे पूजन – हवन के महोत्सव का शुभारंभ होगा। 8 से 11 फरवरी के मध्य एकल गीत ,सामूहिक गीत,एकलगीत,एकलनृत्य,सामूहिकनृत्य,मिमिक्री आदि सांस्कृतिक प्रतियोगिता व रेस,कूद,भालाफेंक,
कबड्डी, बालीबाल, ग्रामीण बालीबाल, क्रिकेट, टेनिस आदि खेलकूद प्रतियोगिता एवं रंगोली, पोस्टर, चित्रकला, फोटोग्राफी आदि ललितकला प्रतियोगिता और निबंध, क्विज, भाषण, वाद-विवाद आदि बौद्धिक प्रतियोगिता तथा स्वच्छता, पर्यावरण, गणवेश आदि समसामयिक विषयक प्रतियोगिता करने का निर्णय लिया गया है। 11 फरवरी को अपराह्न 02 बजे से सांस्कृतिक कार्यक्रम सम्पन्न होगें। 12 फरवरी 2021 को ग्रामोदय महोत्सव का समापन कार्यक्रम होंगे,जिसमें प्रातः 10 बजे से गणेश वंदना, समूहनृत्य,पुरस्कार वितरण, मुख्य अतिथि उदबोधन एवं कुलपति प्रो नरेश चंद्र गौतम के विशिष्ट व मार्गदर्शक विचारों के प्राकट्य के साथ समापन होगा।इस अवसर पर पूजन – हवन, ललित कला व मंच सज्जा ,बौद्धिक प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम, खेलकूद व पुरस्कार वितरण, फूल-माला-बुके व स्वल्पाहार, ध्वनि विस्तारक यंत्र, फ़ोटो ग्राफी व वीडियो ग्राफी,मीडिया, वाहन व्यवस्था, पार्किंग व सुरक्षा व्यवस्था, परिसर स्वच्छता एवं टेंट व्यवस्था आदि के लिए संयोजक व सहसंयोजक नामित किये गए हैं। इस व्यवस्था निर्धारण बैठक में प्रो आई पी त्रिपाठी, डॉ आंजनेय पांडेय, डॉ कुसुम सिंह, डॉ ललित कुमार सिंह, डॉ प्रसन्न पाटकर, इंजी सी पी बस्तानी, डॉ विनोद कुमार सिंह, डॉ रामखेलावन उर्फ राजा पांडेय , जय प्रकाश शुक्ल आदि ने प्रमुख रूप से अपने विचार व्यक्त किए।

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar