कानपुर. कानपुर (Kanpur) में यूपी एसटीएफ (UP STF) ने कछुओं (Turtles) की तस्करी करने वाले अंतरराष्ट्रीय गिरोह के

कानपुर. कानपुर (Kanpur) में यूपी एसटीएफ (UP STF) ने कछुओं (Turtles) की तस्करी करने वाले अंतरराष्ट्रीय गिरोह के दो सदस्यों को रामादेवी फ्लाईओवर से कंटेनर के साथ गिरफ्तार किया. कंटेनर में 1300 जिंदा कछुए बरामद हुए जो इटावा से कोलकाता ले जाए जा रहे थे. वहां से इन कछुओं को बांग्लादेश व म्यांमार के रास्ते चीन, हांगकांग और मलेशिया आदि देशों में सप्लाई किया जाता है. गिरोह में इटावा, औरैया, कन्नौज, फर्रुखाबाद, एटा और मैनपुरी के बीस से अधिक लोग शामिल हैं.

एसटीएफ सीओ तेज बहादुर सिंह ने बताया कि कंटेनर मालिक विनोद कुमार सविता व चालक रामबेश यादव को गिरफ्तार किया गया. दोनों मैनपुरी के कुरावली थाना क्षेत्र के सरीफपुर के रहने वाले हैं. कछुओं की तस्करी ये गिरोह पिछले डेढ़ दशक से कर रहा है. जांच में पता चला कि कछुआ दुर्लभ सिंदूरी प्रजाति के हैं जो खासकर चंबल नदी में ही पाए जाते हैं.

Lucknow News: मुख्य सूचना आयुक्त बने पूर्व IPS भावेश कुमार सिंह, राज्यपाल ने दिलाई शपथ

मैनपुरी के धर्मेंद्र, इटावा के देवेंद्र सिंह उर्फ सीटू, फिरोजाबाद के सिरसागांव के गजेंद्र और औरैया अछल्दा का राजकुमार सरगना के तौर पर गिरोह संचालित कर रहे हैं. इसके अलावा आसपास के छह सात जिलों के बीस से अधिक लोग गिरोह से जुड़े हैं. एक कछुए की कीमत करीब 50 हजार है जिसे आगे 80 हजार से एक लाख रुपये तक में बेचा जाता है. फिलहाल पुलिस गिरफ्तार तस्करों से पूछताछ में जुटी है.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar