आजमगढ़. पूर्व सांसद और बाहुबली उमाकांत यादव (Umakant Yadav) के बेटे रविकांत यादव ने जिले में अपना वर्चस्व स्थापित

आजमगढ़. पूर्व सांसद और बाहुबली उमाकांत यादव (Umakant Yadav) के बेटे रविकांत यादव ने जिले में अपना वर्चस्व स्थापित करने के लिए खाकी पर ही असलहा तान दिया. फिर क्या, पुलिस (Police) ने बाहुबली के बेटे को उसी के अंदाज में सबक सिखाते हुए सलाखों के पीछे भेज दिया. इसके बाद उसके समर्थक भी लाव-लश्कर के साथ थाने पहुंचे, जहां पुलिस ने उनके वाहन (Vehicle) को सीज कर उन्हें लौटा वापस कर दिया. बाबहुली पूर्व सांसद के बेटे का जेल जाना जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है.

जानकारी के अनुसार दीदारगंज थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह और क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम शनिवार देर रात को सिविल ड्रेस में दबिश देने जा रही थी कि हुब्बीगंज कस्बे के पास ओवरटेक करने के दौरान पूर्व सांसद उमाकांत यादव के बेटे रविकांत यादव की गाड़ी पुलिस की गाड़ी से टकरा गई. गाड़ी में टक्कर होने के बाद पूर्व सांसद के पुत्र वाहन से बाहर निकले और पुलिसकर्मीयों से उलझ गये.

Raebareli News: डैमेज कंट्रोल में जुटी कांग्रेस के लिए ‘बुरी खबर’, बागी MLA अदिति सिंह का सोनिया गांधी पर बड़ा हमला

बात बढ़ी तो सांसद पुत्र ने पुलिसकर्मियों पर असलहा तान दिया. इसके बाद पुलिसकर्मीयों ने दीदारगंज थाने की पुलिस को सूचना दी और सांसद पुत्र को वाहन समेत थाने लेकर चली आई. सासंद पुत्र के हिरासत में लेने के बाद उनके समर्थकों का थाने पर जमावड़ा लग गया. देर रात तक थाने पर समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा. रविवार को पुलिस ने सांसद पुत्र के खिलाफ हत्या के प्रयास, सरकारी कार्य में बाधा डालने सहित अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने वाहन से दो रायफल, दो लक्जरी कार, हाकी, डेढ़ दर्जन कारतूस आदि बरामद किया है.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar