नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को राज्यसभा में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के हालात से अवगत कराएंगे

नई दिल्ली. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को राज्यसभा में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के हालात से अवगत कराएंगे. रक्षा मंत्रालय की तरफ से बताया गया है कि राजनाथ सिंह बताएंगे कि वर्तमान में एलएसी के हालात कैसे हैं और दोनों पक्षो के बीच बातचीत कहां तक पहुंची है.

गौरतलब है कि बुधवार को चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि पूर्वी लद्दाख में पैंगोग झील के उत्तरी और दक्षिणी छोर पर तैनात भारत और चीन के अग्रिम पंक्ति के सैनिकों ने बुधवार से व्यवस्थित तरीके से पीछे हटना शुरू कर दिया. भारतीय पक्ष की ओर से इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं आई है.
चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल वु कियान ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में पैंगोग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारों पर तैनात भारत और चीन के अग्रिम पंक्ति के सैनिकों ने बुधवार से व्यवस्थित तरीके से पीछे हटना शुरू कर दिया. उनके इस बयान से संबंधित खबर चीन के आधिकारिक मीडिया ने साझा की है.

बातचीत में बनी सहमति के आधार पर सैनिकों ने पीछे हटना शुरू किया
कियान ने एक संक्षिप्त प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि भारत और चीन के बीच कमांडर स्तर की नौवें दौर की वार्ता में बनी सहमति के अनुरूप दोनों देशों के सशस्त्र बलों की अग्रिम पंक्ति की इकाइयों ने आज 10 फरवरी से पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारों से व्यवस्थित तरीके से पीछे हटना शुरू कर दिया.

बता दें भारत और चीन बीते करीब 9 महीने से सीमा विवाद में उलझे हुए हैं. जून में हुई गलवान घाटी की घटना के बाद भारत ने बेहद सख्त रुख अख्तियार किया था. भारत की तरफ से चीन को साफ किया जा चुका है कि सीमा पर अशांति के साथ दोनों देशों के संबंध सामान्य नहीं रह सकते हैं. विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने दोनों देशों के बीच बेहतर संबंध के लिए कुछ उपाय भी सुझाए हैं जिन्हें चीन की तरफ से भी सराहा गया है.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar