नई दिल्ली. केंद्र सरकार अपनी सबसे वैल्यूवल कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी, LIC) को पहली बार शेयर बाजार में लिस्टेड कराने जा रही है

नई दिल्ली. केंद्र सरकार अपनी सबसे वैल्यूवल कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी, LIC) को पहली बार शेयर बाजार में लिस्टेड कराने जा रही है. सरकार करीब 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी. लेकिन इससे पहले ही एलआईसी का शानदार प्रदर्शन जारी है. इस वित्त वर्ष में अब तक एलआईसी ने शेयर बाजार में अपने निवेशों से रिकॉर्ड 35 हजार करोड़ रुपए की कमाई की है. मनी कंट्रोल वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में एलआईसी चेयरमैन एमआर कुमार ने यह जानकारी दी.

कुमार ने बताया कि कंपनी ने जुलाई, 2020 के बाद से ऊंचे दाम पर शेयर बेचकर अब तक 34.96 हजार करोड़ रुपए का लाभ कमाया है. जबकि कंपनी ने बीते साल 18.37 हजार करोड़ रुपए कमाए थे. चेयरमैन कुमार के मुताबिक कंपनी का बाजार में निवेश बढ़ सकता है. कंपनी ने 2020-21 में अब तक करीब 72 हजार करोड़ रुपए के शेयर खरीदे हैं. जबकि 2019-20 में कंपनी ने 61.59 हजार करोड़ रुपए के शेयर खरीदे थे. कुमार ने बताया कि एलआईसी कॉन्ट्रेरियन (contrarian) रणनीति अपनाती है, जिसके तहत बाजार सेटिमेंट पॉजिटिव होने पर बिकवाली की जाती है. वहीं, गिरावट में अच्छे शेयरों की खरीद की जाती है. गौरतलब है कि शेयर और डेट मार्केट में एलआईसी की बड़ी भूमिका है, क्योंकि यह देश की सबसे बड़ी संस्थागत निवेशकों में शामिल है. कंपनी की निवेश रणनीति से पूरा मार्केट प्रभावित होता है.

यह भी पढ़ें : फास्टैग में मिनिमम बैलेंस की बाध्यता खत्म, जानिए और क्या नियम बदले

डेट और इक्विटी मार्केट में निवेश बढ़ा
कुमार ने कहा कि 2020-21 में डेट और इक्विटी मार्केट में एलआईसी द्वारा कुल निवेश बढ़कर 5 लाख करोड़ रुपए के पार हो सकता है, जबकि पिछले साल यह 4.38 लाख करोड़ रुपए रहा था. वित्त वर्ष 2019-20 में 4.38 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया था. हालांकि, एलआईसी का ग्रॉस इन्वेस्टमेंट 31 जनवरी 2021 तक 14.2% बढ़कर 4.44 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गया है. यह पिछले साल की समान अवधि में 3.89 लाख करोड़ रुपए रहा था.

यह भी पढ़ें : टेस्ला के ऐलान के बाद भारत में भी बिटकॉइन खरीदी वाल्यूम में चार गुना इजाफा, लेकिन एक्सचेंज नए कानून से परेशान

इन सेक्टरों में है एलआईसी का निवेश
एलआईसी देश के बैंकिंग, बीमा, कंज्युमर गुड्स, रिटेल, एविएशन, कैपिटल गुड्स और ऑटोमोबाइल सेक्टर में निवेश करती है. मार्केट एक्सचेंज डेटा के मुताबिक बीएसई (BSE) सेंसेक्स चालू वित्त वर्ष में अब तक 81.59% चढ़ चुका है. 10 फरवरी 2021 को सेंसेक्स 51,309.39 पर बंद हुआ. यह 1 अप्रैल 2020 को इंडेक्स 28265.31 पर बंद हुआ था.

यह भी पढ़ें : नौकरी छोड़ने पर अब खुद से अपडेट कर सकते हैं अपना पीएफ अकाउंट, नहीं अटकेगा आपका फंड

नए वित्त वर्ष में आएगा एलआईसी का आईपीओ
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा संसद में पेश किए गए बजट में साफ कर दिया है कि एलआईसी का आईपीओ (IPO) नए वित्त वर्ष 2021-22 में आएगा. राज्यसभा में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि आईपीओ की प्रक्रिया जारी है. उन्होंने बताया कि आईपीओ में एलआईसी पॉलिसी धारकों के लिए 10% हिस्सा रिजर्व होगा.

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar