नोएडा. शहर से निकलने वाले टनों वजन के कूड़े को अब यहां-वहां नहीं फेंका जाएगा

नोएडा. शहर से निकलने वाले टनों वजन के कूड़े को अब यहां-वहां नहीं फेंका जाएगाuse. कंस्ट्रक्शन साइट से निकलने वाला कूड़ा भी इस्तेमाल में लाया जाएगा. इस कूड़े से ईंट और टाइल्स बनाई जाएंगी. खास बात यह है कि इन टाइल्स और ईंट का इस्तेमाल सरकारी काम में भी होगा. इससे एक और जहां ईंट-टाइल्स बेचकर बिजनेस किया जा सकेगा वहीं शहर का प्रदूषण भी कम होगा. इस योजना की शुरुआत ग्रेटर नोएडा से की जा रही है. जल्द ही 4.5 एकड़ एरिया में यह प्लांट काम शुरु कर देगा.ग्रेटर नोएडा प्रधिकरण के मुताबिक शहर से हर रोज़ टनों वजन के हिसाब से कूड़ा निकलता है. इस कूड़े में कंस्ट्रक्शन साइट का वेस्ट भी होता है. आमतौर पर इस कूड़े को एक जगह से उठाकर दूसरी जगह पर डाल दिया जाता है. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. इकोटेक सेक्टर-3 में एक प्लांट लगाया जा रहा है. यह प्लांट एक प्राइवेट कंपनी शुरु कर रही है. कंपनी को ज़मीन दी गई है. कंपनी हर रोज 100 टन कूड़े से ईंट और टाइल्स बनाएगी. जल्द ही इसकी क्षमता 300 टन कर दी जाएगी.
घर, ऑफिस और होटल-रेस्टोरेंट से कूड़ा उठाएगी कंपनी
ग्रेटर नोएडा प्रधिकरण और कंपनी के बीच हो रहे समझौत के मुताबिक कंपनी घर, ऑफिस, होटल-रेस्टोरेंट, पब्लिक प्लेस और कंस्ट्रक्शन साइट से कूड़ा उठाएगी. लेकिन इसके लिए कंपनी हर महीने एक निर्धारित फीस भी वसूलेगी. यह फीसी प्रधिकरण और कंपनी मिलकर तय करेंगे.
कंपनी ऐसे उठाएगी शहरभर से कूड़ा
कूड़ा इकट्ठा करने के लिए शहर में कलेक्शन सेंटर भी बनाए जाएंगे. इसके लिए शहर की 10 लोकेशन चुनी गई हैं. इसमे ग्रेटर नोएडा ईस्ट में 5, ग्रेटर नोएडा वेस्ट में 4 और नालेज पार्क में एक सेंटर बनाया जाएगा. सेन्टर बनने के बाद हर सेंटर की जानकारी प्राधिकरण की वेबसाइट पर डाल दी जाएगी. इसके साथ ही उस कलेक्शन सेंटर से जुड़े व्यक्ति का मोबाइल नंबर भी दिया जाएगा.

News 11india TV
विश्वनाथ पाण्डेय

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar