एटीएम ब्लास्ट कर लूट के आरोपी के तार सिरमौर में कई लोगों से जुड़े/ news11 इंडिया टीवी से समाचार संपादक अनिल सिंह

एटीएम ब्लास्ट कर लूट के आरोपी के तार सिरमौर में कई लोगों से जुड़े

कार्यवाही ना करने पर तत्कालीन थाना प्रभारी पर रिश्वत लेने का आरोप

सिरमौर सतना जिले के सभापुर थाना अंतर्गत बिरसिंहपुर कस्बे में एक्सिस बैंक के एटीएम को ब्लास्ट कर ₹960000 की लूट करने वाले मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा के सिरमौर में कई लोगों से तार जुड़े होने की चर्चा है उल्लेखनीय है कि सतना जिले में 4 लोगों ने एटीएम ब्लास्ट कर लूट को अंजाम दिया था जिन्हें की सतना पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया गया है मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा संतोष कुशवाहा दोनों के पिता बुध सेन कुशवाहा हाल निवास सिरमौर तो वही दो अन्य आरोपी पुष्पेंद्र कुशवाहा सतना निवासी एवं सिरमौर न्यायालय में चपरासी के पद पर पदस्थ बबलू साहू जोकि मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा के घर में किराए से रह रहा था जानकारी के अनुसार मनीष कुशवाहा की ससुराल सिरमौर में ही है और यह व्यक्ति अपराध तस्करी एवं चोरी के लिए जाना जाता है इसके ऊपर अलग-अलग थानों में एवं न्यायालयों में प्रकरण विचाराधीन एवं अपराध दर्ज हैं सूत्र बताते हैं कि बीते माह तत्कालीन थाना प्रभारी सिरमौर को इसकी संदिग्ध गतिविधियों की पूरी जानकारी होने के बाद भी वार्ड क्रमांक 8 में सिरमौर निवासी अप्रवासी भारतीय युवक द्वारा जोकि हाल ही में भाजपा पार्टी की सदस्यता लेकर समाज सेवा के लिए जाना जाता है के माध्यम से तत्कालीन थाना प्रभारी सिरमौर के साथ कई बार मीटिंग फिक्स करवाई गई एवं पैसे के लेनदेन की भी चर्चा है जिसके चलते तत्कालीन थाना प्रभारी द्वारा मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा के ऊपर किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई यदि मुख्य आरोपी के ऊपर शीघ्र कार्यवाही की जाती तो सिरमौर में कई बड़ी चोरियों का पर्दाफाश भी हो सकता था जानकारी के अनुसार सिरमौर कस्बे में ही एक न्यायाधीश के यहां 500000 रुपए से ऊपर की चोरी हुई थी यहां यह भी प्रश्न विचारणीय है कि एक व्यक्ति न्यायालय का ही एटीएम ब्लास्ट लूट में आरोपी है जोकि एटीएम ब्लास्ट के मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा के घर में किराए से रह रहा था तो वही पिछले माह है एक व्यक्ति की मोटरसाइकिल चोरी गई थी जिसकी शिकायत सिरमौर थाना में दर्ज कराई गई जो कि मुख्य आरोपी के घर के पास से ही चोरी होने की घटना बताई जा रही है तो वही टी एच पी सिरमौर में एक ही दिन में कई घरों के ताले टूटे थे एवं लाखों का सामान कर्मचारियों के घर से पार कर दिया गया शंका जाहिर की जा रही है कि कहीं ना कहीं इन चोरियों में इन लोगों का हाथ हो सकता है किंतु तत्कालीन थाना प्रभारी द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई और यह बड़ी चोरियां रहस्य बन कर रह गई यदि इन आरोपियों के ऊपर कार्यवाही की जाती तो संभवतः बड़ी चोरियों का खुलासा भी हो जाता जानकारी के अनुसार मनीष कुशवाहा ने बेनामी संपत्तियां खरीद कर सिरमौर में ही अपने रिश्तेदारों के नाम कर रखी हैं और इनके रिश्तेदार इनके हर अपराध में कहीं ना कहीं संलिप्त भी हैं सिरमौर में ही मुख्य आरोपी मनीष कुशवाहा का करोड़ों रुपए का फार्म हाउस करोड़ों का घर बना हुआ है जिसमें फार्म हाउस तो इसने अपने रिश्तेदार के नाम ही कर रखा है तो वही सूत्र बताते हैं कि सिरमौर सेमरिया मार्ग पर भी आरोपी द्वारा जमीन के खरीदी गई है इसके साथ ही रीवा सेमरिया अन्य जगहों में भी इसकी करोड़ों की संपत्ति होने की चर्चा भी है इस आरोपी द्वारा पूर्व में भी पन्ना जिले के पवई से अष्टधातु की मूर्ति चोरी की गई थी इसका भी प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है रीवा जिले के एसपी राकेश सिंह द्वारा तत्कालीन थाना प्रभारी को सिरमौर से हटाकर सराहनीय कार्य किया गया है जिसकी की क्षेत्र की जनता प्रशंसा कर रही है क्योंकि इनके कार्यकाल में अपराधिक घटनाएं चोरी लूट एवं नशीले पदार्थों का अवैध बिक्री पूरे क्षेत्र में फैली हुई थी हालांकि वर्तमान समय में महिला प्रशिक्षु यस आई के नेतृत्व में अपराधों एवं यातायात व्यवस्था एवं अपराधियों की धरपकड़ जारी है जिसकी क्षेत्र की जनता प्रशंसा कर रही है

व्हाट्सप्प आइकान को दबा कर इस खबर को शेयर जरूर करें 

Please Share This News By Pressing Whatsapp Button 

[responsive-slider id=1864]

Related Articles

Close
Avatar